हरे कृष्णा,




मेरा दीक्षित नाम  धाम सेवक दास (Deependra Dwivedi) है मेरी पत्नी का  दीक्षित नाम अकर्सिणी गंगा देवी दासी (Anshoo Dwivedi) है |मेरी एक बेटी है जिसका नाम Radhika Dwivedi है | हम दोनों के गुरु His Holiness Gopal Krishan Goswami Maharaj  हम दोनों लोगो के ऊपर असीम कृपा करके  हम दोनों को दीक्षा प्रदान की है | हमारे शिक्षा गुरु H. H. Sunder Gopal Prabhu है | मै अपने शिक्षा गुरु और दीक्षा गुरु की कृपा से कुछ भक्ति मार्ग में बढ़ने का प्रयाश कर रहा हूँ आप लोगों से विनम्र निवेदन है यदि आप लोग इस वेबसाइट में कुछ भी सलाह देना चाहते है जिससे लोगो को भक्ति मार्ग में कुछ नया मिल पाये या भक्ति मार्ग में आगे बढ़ पायें तो जरूर  संपर्क करें |

Email Id : deependradwivedi8@gmail.com 

Mobile No. : 9911921901

गौ गोविन्द वेबसाइट का उदेश्य गौ और गोविन्द के बारे में लोगों को बताना है | ताकी आज का समाज गौ और गोविन्द की  भक्ति कर सके |




हमारा देश सोने की चिड़िया कहलाता था | कभी आपने सोंचा है क्यों ? क्योकि भारत में दो लोगो का बहुत सम्मान होता था  १. गौ माता २. ब्राह्मण | ब्राह्मणों का तो हनन पहेले ही हो चुका है क्योकि ब्राह्मण वो होता था जो ब्रह्म के बारे में जानता था और सदाचार का पालन करता था | आज भारत से ब्राह्मणों का हनन हो चुका है क्योकि कोई जन्म से ब्राह्मण नहीं होता है कर्म से होता है | आज जिसके कर्मो में ब्राह्मण के गुण है वही असली में ब्राह्मण है यही बात भगवान् क्रष्ण ( गोविन्द ) ने भगवद गीता के बारे में बताई है और अफ़सोस की बात यह है भारत में गौ माता ही बची थीं आज उनकी भी दुर्दशा हो गई है | आज गौ माता को कचरा खाना पर रहा है उनका न तो कोई घर रह गया है न ही कोई ठिकाना और गौ माता की हत्या तक दिन प्रति दिन बदती जा रही है | आज का भारत गौ कृपा और ब्राह्मण ज्ञान से वंचित है | आज के भारत को देख कर ऐसा लगता है की क्या ये वही भारत है जो पुरे विश्व का गुरु था और पूरा संसार यहाँ आना चाहता था | भारत की स्तिथि को सुधारने के लिए मेरा यह छोटा सा प्रयास है | आज भी भारत की स्तिथि सुधर सकती है अगर हम लोग दो बैटन का विशेष ध्यान रखें १. गौ माता को कटने से बचा पायें और नए नए गौशालाए भूरे भारत में खोलें २. गोविन्द की पूजा कर भगवद गीता के अनुसार चल पायें | इन दोनों को करने से हमें गौ कृपा और गोविन्द कृपा दोनों प्राप्त होगीं | जिनके पास इन दोनों की कृपा है उसको आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता है.

हमारे जीवन का उदेश्य कृष्णा भक्ति है और कृष्णा भगवान् गौ माता  की सेवा करते थे इसलिए हमे भी गौ माता की सेवा करनी चाहिए | इसलिए मैंने इस वेबसाइट का नाम गौ गोविन्द रखा है |




हमारे जीवन में बस एक ही महामंत्र का जाप होना चाहिए | वह महामंत्र है

हरे कृष्णा हरे कृष्णा कृष्णा कृष्णा हरे हरे |

हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *